CID Kya Hai CBI Kya Hai दोनो में क्या अंतर है 2021

CID Kya Hai CBI Kya Hai दोनो में क्या अंतर है 2021

आपने भी सुना होगा बड़े-बड़े देशों में कई प्रकार की क्राइम इन्वेस्टिगेशन एजेंसी होती है। वैसे ही क्राइम इन्वेस्टिगेशन करने के लिए हमारे देश में भी कई प्रकार की संस्था है जिसमे CID , CBI भी है।

आपने भी सीबीआई और सीआईडी का नाम न्यूज़ में यह अखबार में या किसी मूवी में सुना है और आप Cbi Kya hai और Cid kya Hai जान ना चाहते है तो बिल्कुल सही पोस्ट पर आए है आज हम इसके बारे में ही बात करने वाले है। दोस्तो कई बार हम न्यूज़ देखते समय या फिर अखबार पढ़ते समय Cid , Cbi के बारे में सुनते है।

और बहौत बार हम मूवी देखते समय भी इन एजेंसियों के बारे में सुना करते है यह केस अब cbi हैंडल करेगी या ये केस को अब cbi को दे दिया गया है।

वैसे ही Cid के लिए भी अपने सुना होगा वैसे ही कई बार में न्यूज़ चैनल और अखबारों में यह पर्दे है कि सीबीआई अब इस केस को हैंडल करेगी जैसे कि आपने बीते वर्ष देखा सुशांत राजपूत के केस में सीबीआई उनका के सेंडल कर रही थी वैसे ही कई बार आपने सीबीआई कभी नाम सुना होगा कि सीबीआई अब इस चीज को हैंडल करने वाली है या सीबीआई अब इस केस की जांच करने वाली है

तो सीबीआई और सीआईडी में क्या अंतर है आज इसके बारे में हमारा आर्टिकल है जिसमें हम पूरी जानकारी आपको देने वाले हैं सीबीआई क्या है और सीआईडी क्या है सीबीआई और सीआईडी में क्या अंतर है।

Trp Kya Hota Hai Trp Meaning Hindi

CID Kya Hai CBI Kya Hai दोनो में क्या अंतर है 2021
CID Kya Hai CBI Kya Hai दोनो में क्या अंतर है 2021

CID Kya Hai सीआईडी क्या है।

सबसे पहले CID का फुल फॉर्म जान लेते है। सीआईडी का फुल फॉर्म होता है। Crime Investigation Department क्राइम इन्वेस्टीगेशन डिपार्टमेंट मतलब आपराधिक जांच विभाग होता है। किसी भी राज्य/ स्टेट में क्राइम को जांच इन्वेस्टिगेशन के लिए इस संस्था को जान जाता है। इस डिपार्टमेंट को दंगे, हत्या, किडनैपिंग, चोरी, आदि का इन्वेस्टिगेशन की जिम्मेदारी सौंपी जाती है। Cid किसी भी राज्य में जांच करता है और यह पुलिस का खुफिया बाग़ होता है।

आपकी जानकरी के लिए बात दे CID सीआईडी की स्थापना British ब्रिटिश के समय की गयी थी पुलिस आयोग की सिफारिश पर की थी। Cid की स्थापना 1902 में की गयी थी।

पुलिस कर्मचारियों को उनके साथ जोड़ने से पहले विशेष प्रकार की ट्रेनिंग दी जाती है। यह डिपार्टमेंट क्रिमिनल का पता लगता है। Cid में मुख्य रूप से सादे कपड़े पहने होते है। जो काफी ट्रेनेड ऑफिसर होते है और काफी टेक्निक और फॉरेंसिक डिवाइस के द्वारा इन्वेस्टिगेशन करते हैं। Cid को जानकारी जुटाने का कार्य सौंपा जाता है जहां अपराध होता है। वहां पर अपराधिक गतिविधियों की जांच करते हैं।

CID को राज्य सरकार और कभी-कभी उस राज्य के हाई कोर्ट के द्वारा जांच की जिम्मेदारी सौंपी जाती है।

Cid kya hai अब आप जान गए होंगे अब बात करते है Cbi kya hai

Gims Sandes App Kya Hai

CBI Kya hai सीबीआई क्या है।

सबसे पहले जान लेते है CBI का फुल फॉर्म क्या है।सीबीआई का फुल फॉर्म होता है Central Bureau Of Investigation सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन जैसे कि नाम से ही पता चल रहा है Central इसका मतलब होता है केंद्रीय जांच ब्यूरो इन्वेस्टिगेशन इसका मुख्य काम देश और विदेश लेवल पर होता है। मतलब यह डिपार्टमेंट देश मे भी काम कर सकता है किसी भी केस पर और विदेश में भी इन्वेस्टिगेशन कर सकता है।

आपकी जानकरी के लिए बात दे सीबीआई का Headquarter हेड क्वार्टर नई दिल्ली में है। पुलिस एक्ट 1946 के तहत सीबीआई को इन्वेस्टिगेशन करने का पावर दिया गया है। वहीं स्टेट गवर्नमेंट की सहमति से सेंट्रल गवर्नमेंट राज्य में मामलों की जांच करने का ऑर्डर देती है हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट किसी भी राज्य सरकार की सहमति के बिना किसी भी राज्य में अपराधिक मामलों की जांच के लिए सीबीआई को आदेश दे सकता है।

Cbi की स्थापना आजादी से 6 वर्ष पहले यानी 1941 में की गयी थी। और इसका नाम Cbi साल 1963 में रखा गया था।

Facebook Ka Malik Kon Hai

CID और CBI में क्या अंतर है।

Cid क्या है और Cbi क्या है अब आप जान गए होंगे अब बात करते है इन दोनों डिपार्टमेंट में क्या अंतर है। हम कुछ प्रमुख अंतर पर बात करने वाले है। जिस से आपको आसानी से दोनों डिपार्टमेंट में अंतर समाज आ सके।

  1. Cid की स्थापना ब्रिटिश गवर्नमेंट द्वारा। 1902 में की गई थी जबकि Cbi की स्थापना 1941 में की गयी थी।
  2. Cid सिर्फ राज्यों में होने वाले अपराधिक मामलों जैसे मर्डर राइट किडनैपिंग चोरी जैसे मामलों की जांच करती है वो भी केवल राज्य में है। बात करे अगर Cbi की तो देश से लेकर विदेश तक घोटाले धोखाधड़ी मर्डर जैसे मामलों की जांच देश और विदेश में करती है।
  3. सीआईडी सिर्फ एक राज्य में काम कर सकता है जबकि सीबीआई पूरे देश में काम कर सकता है और साथ ही विदेशों में भी अपना कार्य कर सकती है।
  4. सीआईडी के पास जो भी मामले आते हैं उन्हें स्टेट गवर्नमेंट और हाई कोर्ट द्वारा सौंपा जाता है जबकि सीबीआई को केंद्र सरकार हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के द्वारा मामले सौंपे जाते है।
  5. अगर किसी को Cid में नौकरी करनी है तो उससे राज्य सरकार द्वारा आयोजित की जाने वाली पुलिस परीक्षा पास करने के बाद क्रिमिनोलॉजी की परीक्षा पास करनी होती है वैसे ही Cbi सीबीआई में नौकरी के लिए SSC एसएससी के दुरा आयोजित परीक्षा को पास करना होती है।

Conclusion |निष्कर्ष

CID Kya Hai CBI Kya Hai दोनो में क्या अंतर है

अब आप जान गए होंगे Cbi kya Hai और Cid Kya hai इस पोस्ट में हमने आसान भाषा मे आपको समझने की कोशिश की है उम्मीद करते है आपको Cid और Cbi के बारे में पूरी जानकारी मिली होगी और दोनों में क्या क्या अंतर है वो भी समाज आया होगा Cid और Cbi में नौकरी कैसे कर सकते है उसके बारे में भी जानकारी दी गयी है। उम्मीद करते है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर आपको पूरी जानकारी मिली हो तो इस पोस्ट को शेयर कर सकते है।

यह भी पढ़े।

मेरा नाम अर्जुन है में ज्ञानहिंदी का फाउंडर हूँ हम इस ब्लॉग में टेक्नॉलजी एंड्राइड ब्लॉग ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए से जुड़ी जानकारी पोस्ट करते है।

Leave a Comment