TRP Kya Hai Trp Full Form ? 2021 Puri Jankari

TRP Kya Hai Trp Full Form ? 2021 Puri Jankari

अगर आप भी टीवी में न्यूज़ ,म्यूजिक , स्पोर्ट्स, सीरियल, मूवी चेनल देखते है तो आपने एक शब्द का नाम सुना होगा टीआरपी अगर नही सुना है तो अपने यह तो जरूर सुना या देखा होगा अगर न्यूज़ देखते है तो रिपब्लिक टीवी अपने चैनल को बोलते है No 1 हिंदी न्यूज़ चैनल बोलता है या आजतक news मेंं Sabse zyada TRP wala News channel

TRP Kya Hai  Trp Full Form ? 2021 Puri Jankari
TRP Kya Hai Trp Full Form ? 2021 Puri Jankari

वैसे ही म्यूजिक चैनल में अपने देखा होगा कोई xyz चैनल अपने चैनल के लिए बोलते है देश का नो 1 music चैनल Sabse ज़्यादा TRP wala channel टीआरपी नही सुना तो ये  जरूर देखा होगा। सुना है ना। क्या आपने कभी सोचा कि वो क्यों बोलते है।अपने चैनल को नंबर वन। यह न्यूज़ चैनल नंबर 1 है यह नंबर 2 है।

जैसे कपिल शर्मा के शो  नंबर 1 है। या स्पोर्ट्स में कोई चैनल जैसे स्टार स्पोर्ट्स नंबर वन है क्या अपने कभी सोचा कि वह कैसे पता लगाते हैं कि उनका चैनल सबसे ज्यादा देखा जा रहा है। अगर कोई ब्लॉगर है या Youtuber है असानी से पता चल जाता है गूगल Analytic से उनके ब्लॉग या यूट्यूब पर कितने views आये किस देश मे वीडियो ज़्यादा देखा जा रहा है। सब पता चल जाता है।

वैसे ही अगर बात करे तो टीवी चैनल के लिए views को रिकॉर्ड करने के लिए होता है TRP क्या होता है Trp Trp Kya Hai ?

Trp को कैसे नापा जाता है।आपको इस पोस्ट में देखने को मिले गा और साथ मे Trp डेटा को कौन पता लगता है कैसे पता चलता है । यह भी पढ़े ।

  1. Fau G Game kaise Install Kare
  2. Blog Kya Hai Blogging कैसे करे पूरी जानकारी

TRP Kya Hai Trp Meaning in Hindi टीआरपी का मतलब क्या है।

टीआरपी का फुल फॉर्म होता है टेलीविजन रेटिंग पॉइंट ( Television Rating Points) इन रेटिंग प्वाइंट से ही पता लगाया जाता है कि कौन से चैनल को कितने लोग देख रहे हैं। यह सब चैनल को नापने के काम करता है न्यूज़ चैनल , मूवी चैनल, स्पोर्ट्स, सीरियल, एवं म्यूजिक चैनल इस से यह पता चलता है की कितना ज्यादा लोग किस  चैनल को देख रहे है और उस चैनल के किस शो या किस टाइम ज़्यादा पसंद ना पसंद किया जा रहा है। जैसा कि मैंने आपको पहले बोला जिस भी चैनल का ज्यादा  Trp ( Television रेटिंग पॉइंट्स ) होता है तो वह अपने चैनल को नंबर वन चैनल बोलते  है।

How trp Measured  टीआरपी को कैसे नापा जाता है।

  1. People Meter ( पीपल मीटर)
  2. Picture Watching ( पिक्चर मैचिंग)

यह भी पढ़े।

People Meter ( पीपल मीटर)

किस चैनल को कितना देखा जा रहा है किस वक़्त ज़्यादा देखा जा रहा है किस वक़्त कम देखा जा रहा है । उसके लिए होती है टीआरपी और Trp का पता लगाने के लिए खास तरह की device लगाई जाती है | जिसका नाम है पीपल मीटर ( People Meter ) और यह device शहर में ज्यादातर लगाई जाती है| यह एक सेटअप बॉक्स में ही एक डिवाइस में  चिप जैसे सिस्टम इनस्टॉल किया जाता है।

जिससे जहां पर यह पीपल मीठा लगता है उसके  आसपास जितने भी सेटअप बॉक्स लेंगे होंगे वो सारे इस पीपल मीटर से कनेक्ट हो जाएंगे और उसके बाद जो भी लोग चैनल देखेगे अपने टीवी  में तो People Meter  उसका डाटा भेजता रहेगा अपने मॉनिटरिंग टीम के पास उसके बाद सारे मीटर का डेटा कलेक्ट किया जाएगा और analise करने के बाद उसको हफ्ते में एक बार सबको दिख दिया जाएगा। Trp हफ्ते में या महीने में शो किया जाता है । भारत मे Barc नाम की वेबसाइट पर trp का डेटा दिखाया जाता है।

Picture Watching ( पिक्चर मैचिंग)

दूसरे तरीके से TRP को नापा जा सकता है जिसका नाम है पिक्चर मैचिंग इसमें पीपल में छोटा सा क्लिप छोटे से भाग्य हिस्से को रिकॉर्ड कर लिया जाता है। जो प्रोग्राम लोग देख रहे है उसको पीपल मीटर में छोटी भाग में रिकॉर्ड कर दिया जाता है जिसके जिसके घर पर यह मीटर लगा है वह लोग उसमें क्या देख रहे हैं और आसपास वाले लोग क्या देख रहे हैं इस मैटर से वह सब डाटा कलेक्ट किया जाएगा और जितने भी पीपल मीटर लगे है उसमें डेटा को एंजेलिस किया जाएगा उसके बाद टीआरपी निकाली जा सकती है यह भी पढ़े।

  1. Url shorten से कैसे पैसे कमाये
  2. ब्लॉगर ब्लॉग कैसे बनाये 2021 में स्टेप by स्टेप
  3. Application In Hindi 
  4. Blogging Kaise Start Kare पूरी जानकारी

भारत में टीआरपी का हिसाब कौन रखता है

भारत में कौन सी संस्था है जो टीआरपी का हिसाब रहती है जिसकी जिम्मेदारी टीआरपी को देखने की है उसमें सबसे पहला नाम आता है। Intam Indian Television Audience Measurement

जैसे किसके नाम से ही पता चल रहा है कि यह ऑडियंस को नापने के काम करती है। यह संस्था ज़्यादा शहर में है अपने पीपल मीटर से ही सारा डाटा कलेक्ट करती है ऑडियंस का पता लगती है।

दूसरी कंपनी का नाम है DART डार्ट दूरदर्शन ऑडियंस रिसर्च टीम यह टीम ज्यादा अपना काम ग्रामीण क्षेत्रों में ही करती है और गांव में इलेक्ट्रॉनिक से और साथ साथ लोगो से फीड बैक से है पता लगाने का काम करती है । गांव में कौनसा चैनल ज़्यादा देखा जाता है।

टीआरपी को जारी करने के लिए एक बड़ी रेटिंग एजेंसी कंपनी है जिसका नाम है BARC ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल यह

हर हफ्ते सारे चैनल की Trp जारी करती है कौन चैनल trp में नंबर 1 है अपनी ऑफिशल वेबसाइट बार पर और इसी के आधार पर चैनल क्लेम करते है की उनका चैनल नम्ब 1 है। चैनल के पास अपना ऐसा कोई डिवाइस नही जिस से वो यह कह सके कि उसका चैनल नो 1 है।

Trp और विवाद

टीआरपी पर हमेशा से कोई न कोई विवाद खड़ा हो जाता है जैसे पिछले साल ही रिपब्लिक टीवी, रिपब्लिक भारत हिंदी पर आरोप लगे थे कि उन्होंने पीपल मीटर जिन के घरों में लगा था उनको पैसे दिए थे उनका चैनल लगा कर रखना था बस हालांकि यह सिर्फ आरोप ही था। इस बात पर बहुत आलोचना भी हुई थी Barc की

Trp फर्जीवाड़े में यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी बहुत बार ऐसे फर्जीवाड़े सामने आते रहे है। यह भी पढ़े।

  1. Instagram से पैसे कैसे earn करे
  2. सिग्नल vs whatsaap vs टेलीग्राम प्राइवेसी feature
  3. Domain Name kya hai Types पूरी जानकारी
  4. Rip Ka Matlab Kya Hota hai Rip Meaning हिंदी में

Trp में ऐसा क्या है जो सारे चैनल नंबर 1 रहना चाहते है?

टीआरपी में सारे चैनल नंबर 1 रहना चाहते है आखिर क्यों इसका एक सबसे बड़ा कारण यह है कि जिस भी चैनल की टीआरपी ज़्यादा होगी इसका मतलब यह है कि उस चैनल को सबसे ज्यादा लोग देख रहे हैं पूरे भारत में या किसी खास टाइम पर जैसे प्राइम टाइम में कोई नंबर 1 है । या ऐसा भी हो सकता है किसी के चैनल

सिर्फ कुछ टाइम के लिए ज़्यादा देखा जाता है। जैसे 7:00pm से 9:00pm के बीच मे कोई चैनल सबसे ज्यादा देखा जाता है।

क्यों सारे चैनल नंबर रहना चाहते है कारण जानिए?

इसकी कारण है पैसे। कैसे जानते है टीआरपी जिस भी चैनल की सबसे ज्यादा होगी उसको उतनी ही महंगी एड्स ads मिलेगी। और चैनल उसको अपने हिसाब से एड्स पर चार्ज करेगा ।

अपने देखा होगा सारे चैनल पर ऐड आती रहती है 1 मिनट की 2 मिनट की बस यह खेल सब ads का है। जो कंपनी अपने प्रोडक्ट को प्रोमोट करना चाहती है । वो चैनल से संपर्क करती है और एक अमाउंट सेट होता है इतनी एड्स दिखानी है इतना पैसा आपको मिलेगा। जिस चैनल की trp ज़्यादा होगी वो बाकी चैनल से ज़्यादा पैसे ले गा अपने चैनल पर एड्स लगाने का।

जो कंपनियां अपनी एड्स लगती है वो चाहते है । जिस भी प्रोडक्ट को प्रोमोशन करना उनका एक मक़सद होता है और वो है ज़्यादा से ज्यादा लोगो तक उनके प्रोडक्ट की जानकारी जाए। और वो जाएगी जिसकी ज़्यादा trp उसका ज़्यादा यूजर बाकी चैनल से।

यह भी पढ़े।

  1. Samsung कंपनी का मालिक कौन है किस देश की कंपनी है
  2. Oppo kha ki Company Ha Oppo Ka malik kon 
  3. What is MOD Apk In Hindi पूरी जानकारी
  4. Vi Balance कैसे देखे Vodafone Balance Check
  5. Gims Sandes App भारत का अपना मेस्सगिंग App डाउनलोड करे

टेलीविजन पर यह माना जाता है कि 80 % से 90% तक चैनल की कमाई एडवर्टाइजमेंट ( Advertisement ) से ही की जाती है और एडवर्टाइजमेंट में महंगे ऐड सबको तभी मिलेंगे जब चैनल की टीआरपी सबसे ज्यादा होगी क्योंकि कंपनियां जो एडवर्टाइजमेंट करना चाहती है वह ज्यादा लोगों तक अपना प्रोडक्ट पहुंचाना चाहती हैं इसलिए जिस की TRP सबसे ज्यादा होगी उस पर सबसे ज्यादा महंगे ऐड लगाए जाते है।

यह भी पढ़े।

  1. घर बैठे पैसे कैसे कमाए ऑनलाइन work
  2. Voter ID Card Kaise Banaye / Download kare Online
  3. Airtel Jio Vi Bsnl Missed Call Alert Activate और De-Activate कैसे करे
  4. Fm WhatsApp Kaise Download Kare 2021
  5. WhatsApp Kis Desh Ka Hai Iska Malik Kon Ha

निष्कर्ष TRP क्या है? Trp Full फॉर्म ? Trp को कैसे नापते है। सारी जानकारी 2021

आज हमने जाना Trp क्या है टीआरपी की फुल फॉर्म क्या है Trp Rating कौन जारी करता है।Trp कैसे नापी जाती है। उम्मीद है आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आप कोई आर्टिकल अच्छा और आपको पूरी जानकारी मिली तो आप इसको शेयर कर सकते हैं धन्यवाद।

यह भी पढ़े।

मेरा नाम अर्जुन है में ज्ञानहिंदी का फाउंडर हूँ हम इस ब्लॉग में टेक्नॉलजी एंड्राइड ब्लॉग ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए से जुड़ी जानकारी पोस्ट करते है।

Leave a Comment